Saturday, January 19Important Information

स्वास्थ्य

टाइफाइड Typhoid आंत्र ज्वर | कारण – लक्षण – बचाव – उपाय

टाइफाइड Typhoid आंत्र ज्वर | कारण – लक्षण – बचाव – उपाय

टाइफाइड एक गंभीर कही जाने वाली बीमारी है. WHO वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के अनुसार पूरी दुनिया में हर साल तक़रीबन 11 से 20 मिलियन लोग टाइफाइड के शिकार बनते है, और उनमें से करीब 1,28,000 से 1,61,000 लोगों की मौत होती है. भारत और अन्य विकासशील देशों में यह रोग एक गंभीर समस्या है. टाइफाइड उन इलाकों में ज्यादा पाया जाता है जहा दूषितं खाना और दूषित पानी का उपयोग हो रहा हो.टाइफाइड फीवर के कारण (Typhoid Fever Reason in Hindi)टाइफाइड बुखार एक जानलेवा संक्रमण है जो जीवाणु "साल्मोनेला टाइफी (Salmonella Typhi)" के कारण होता है. यह जीवाणु केवल मनुष्य में पाए जाते है अन्य कोई प्राणियों में नहीं. टाइफाइड की बीमारी आमतौर पर दूषित या संक्रमित भोजन या पानी से फैलता है। इसके बेक्टेरिया इन्सान के मल और मूत्र द्वारा भी फेल सकता है.टाइफाइड से संक्रमित व्यक्ति को कुछ दिनों तक कोई लक्षण नही दीखते जिसकी वजह
मलेरिया के लक्षण व् कारण (मलेरिया कैसे होता है?) Malaria Symptoms and Causes Hindi

मलेरिया के लक्षण व् कारण (मलेरिया कैसे होता है?) Malaria Symptoms and Causes Hindi

पिछले साल पूरी दुनिया में मलेरिया (Malaria) के करीब 21,90,00,000 (21 करोड़ 90 लाख) केस (मरीज) पाए गए थे, उनमें से करीब 4,35,000 लोगों की मलेरिया के कारण मौत हो गई थी। इस तरह मलेरिया की बीमारी एक गंभीर बीमारी और एक बड़ी स्वास्थ्य समस्या भी मानी जाती है। इस पोस्ट में मलेरिया होने (या फेलने) के कारण और उनके लक्षण दिए गए है।मलेरिया के कारण (मलेरिया कैसे होता है): Causes of Malaria in Hindiमलेरिया की बीमारी प्लास्मोडियम नामक परजीवी गण से फैलती है। प्लास्मोडियम फैल्सीपैरम, प्लास्मोडियम विवैक्स, प्लास्मोडियम ओवेल, प्लास्मोडियम मलेरिये इन 4 प्रकार के परजीवी मनुष्य को प्रभावित करतें है. जिनमे से प्लास्मोडियम फैल्सीपैरम, प्लास्मोडियम विवैक्स मनुष्य के लिए ज्यादा खतरनाक मानें जाते है. इन चारों परजीवी को "मलेरिया परजीवी" भी कहा जाता है.ज्यादातर यह परजीवी मच्छरों के माध्यम से फैलते है, मादा एनोफि
आपकी ऊंचाई के अनुसार आपका वजन कितना होना चाहिए! जरुर जाने! Height ke Hisab se Weight Calculator

आपकी ऊंचाई के अनुसार आपका वजन कितना होना चाहिए! जरुर जाने! Height ke Hisab se Weight Calculator

ऊंचाई के हिसाब से आपका वजन कितना होना चाहिए?Height ke Hisab se Weight Calculator: क्या आप जानते है की ऊंचाई के अनुसार आपका वजन कितना होना चाहिए? कई लोग यह प्रश्न को सामान्य तरीके से देखते है। मगर शायद वह लोग यह नहीं जानते होंगे की यदि हमारा वजन हमारी ऊंचाई (height) के अनुसार होगा तो शारीरिक स्वास्थ्य की द्रष्टि से हम सबसे स्वास्थ्य है। यह बात जानने के बाद आपके दिमाग में एक और प्रश्न आएगा की मेरी ऊंचाई (height) 6 feet है तो मेरा वजन स्वास्थ्य की द्रष्टि से कितना होना चाहिए ? इसका जवाब आपको निचे दिये गए टेबल की मदद से मिल जायेगा। जिसमे हमने ऊंचाई (height) के अनुसार पुरुष (Male) का वजन किलो ग्राम में और ऊंचाई (height) के अनुसार महिला (Female) का वजन किलो ग्राम में दिखाया है।एक बात का ध्यान रखे की यदि आपको अपना सही वजन कितन होना चाहिए वह जानना है तो आपको अपनी ऊंचाई (haight) कितनी है वह स
स्तन कैंसर के लक्षण (Stan Cancer Lakshan) Breast Cancer Symptoms in Hindi

स्तन कैंसर के लक्षण (Stan Cancer Lakshan) Breast Cancer Symptoms in Hindi

Stan Cancer:- ऐसा नही की ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण सिर्फ् महिलाओं को ही होता हैं, स्तन कैंसर महिलाओं और पुरुषों दोनों को हो सकता है। हालाकि पुरुषों को स्तन कैंसर होने की संभावना बहुत ही कम होती है। 40 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं को स्तन कैंसर का ज्यादा खतरा रहता है। इसलिए महिलाओं स्तन कैंसर(Stan Cancer) के बारे में सभी जानकारी होना अति आवश्यक हो जाता है। किसी भी प्रकार के कैंसर की जानकारी उसके शुरूआती स्टेज में मिल जाए तो उसको सरलता से कंट्रोल किया जा सकता है।वैसे तो स्तन कैंसर के कोई फिक्स लक्षण नही है, लेकिन कुछ ऐसे लक्षण है जिसके पाए जाने पर आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और जरुरत हो तों जरुरी टेस्ट्स करवा लेने चाहिए। स्तन कैंसर लक्षण उपरांत उसके होने के कुछ कारण भी इस पोस्ट में दिए गए है।➾ स्तन कैंसर के लक्षण (Stan Cancer Lakshan): Breast Cancer Symptoms in Hindiकुछ परिस्थित
Vitamin B12 के लक्षण, स्रोत और बिना दवाइयों का घरेलू उपचार – Vitamin B12 in Hindi

Vitamin B12 के लक्षण, स्रोत और बिना दवाइयों का घरेलू उपचार – Vitamin B12 in Hindi

Vitamin B12: शरीर को स्वस्थ रखने के लिए आपने शरीर मे विटामिन B12 होना अति आवश्यक हैं। शरीर को ज्यादातर आवश्यक विटामिन तत्वों आहार के मिल जाते है। एक विटामिन बी १२ ऐसा विटामिन है जो आपने रोजिंदा आहार बहुत कम मात्र मे होता है और इस Vit B12 की सही मात्रा हमारे शरीर और हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद जरुरी है। और इस विटामिन की कमी ज्यादातर भारतीयों मे पाई गई है। V- B12 को Cobalamin भी कहा जाता हैं। यह मात्रा एक ऐसा vitamin है जिसमे Cobalt नाम का धातु पाया जाता हैं। Cobalt धातु हमारे शरीर का स्वास्थ्य के लिए बेहद जरुरी हैं। बी12 विटामिन और अन्य प्रकार के विटामिन मे यह अंतर हे की अन्य प्रकार के विटामिन हमारे शरीर में जमा नहीं होते जबकि विटामिन बी12 हमारे लिवर में जमा होता है।अगर हमारे शरीर मे बी 12 विटामिन की मात्रा बढ़ जाती है तो आपना शरीर इसे आसानी से निकाल देता है। ज्यादातर भारतीयों के शरीर मे
डायबिटीज कंट्रोल करने के घरेलू उपाय – Diabetes Control Tips in hindi

डायबिटीज कंट्रोल करने के घरेलू उपाय – Diabetes Control Tips in hindi

Diabetes Control Tipsडायबिटीज (diabetes,मधुमेह ) को जड़ से ख़त्म करना लगभग नामुमकिन है। यदि आप चाहे तो नियमित दिनचर्या और सही खान-पान से डायबिटीज निश्चित रूप से कंट्रोल कर सकते हैं। पहले डायबिटीज की बीमारी बड़ी उम्र के लोगों को अपना शिकार बनाती थी लेकिन अब युवाओं की गलत दिनचर्या और खान पान के कारण ये बीमारी युवाओं और बच्चों में भी फेल रही है।डायबिटीज (मधुमेह) होने के कारणपेंक्रियाज ग्रंथी:पेंक्रियाज ग्रंथी ठीक से काम न करने से या फिर पेंक्रियाज ग्रंथी का ख़राब होना डायबिटीज होने का सबसे बड़ा कारण है। हमारे शरीर मे मोजूद इंसुलिन की मदद से खून शरीर की कोशिकाओ को शुगर पहुंचाने का काम करता है। पेंक्रियाज ग्रंथी से हार्मोंस, इंसुलिन और ग्लूकान निकलते हैं। हमारे शरीर मे इंसुलिन बहुत ज्यादा जरुरी है। हालांकि डायबिटीज होने के और भी कई कारन है लेकिन पेंक्रियाज ग्रंथी इसका सबसे बड़ा कारण है
7 Health Tips in Hindi | हेल्थ टिप्स हिंदी में

7 Health Tips in Hindi | हेल्थ टिप्स हिंदी में

Health Tips in Hindi इस पोस्ट में हेल्थ से जुडी 7 टिप्स दी गई है। कुछ बाते जीने यदि आप हररोज ध्यान में रखते हो तो आप पूरी लाइफ एवं फिट रहोगे। स्वस्थ जीवन जीने के लिए यह टिप्स बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है और यह टिप्स आपको निरोगी रहने में भी महत्वपूर्ण साबित होगी।1. सुबह का नाश्ता - BreakfastHealth Tips in Hindi-1सुबह का नाश्ता सबसे महत्वपूर्ण फ़ूड होता है। सुबह का नाश्ता यानि ब्रेकफास्ट दिन की शुरुआत का सबसे महत्वपूर्ण उर्जा स्त्रोत होता है। हररोज संतुलित ब्रेकफास्ट आपकी बॉडी के लिए बेहद फायदेमंद होता है। एक संतुलित नाश्ते में आप ताजा फल या फलों का रस, हाई फाइबर अनाज, कम फैट वाला दूध या दही, गेहूं के टोस्ट, उबले हुए अंडे जेसे फ़ूड ले सकते है।2. पानी - WaterHealth Tips in Hindi-2करीब 70% मानव शरीर पानी से बना है, उसकी वजह से जब शरीर में पानी की कमी होती तब शरीर के अंग अच्छी त
अपने बच्चो कों Mobile न दें ! – जानिए क्यों Mobile बच्चो के लिए है हानिकारक। Harmful effects of Mobile Radiation for children Hindi

अपने बच्चो कों Mobile न दें ! – जानिए क्यों Mobile बच्चो के लिए है हानिकारक। Harmful effects of Mobile Radiation for children Hindi

mobile radiation:- आजकल लोग अपने बच्चों को Mobile फोन देने में संकोच नहीं करते। बच्चे लगभग एक साल की उम्र से ही Mobile Phone की जिद करने लगते है। Mobile Phone में  गेम खेलना, वीडियो देखना आदि बच्चों को बहुत पसंद होता है। लेकिन Mobile Phone का बच्चो पर बुरा असर पड़ सकता है। वर्तमान के बच्चे Radio-Frequency (रेडियो फ्रीक्वेंसी ) वाले वातावरण में बडे हो रहे हैं। मोबाइल फोन में भी रेडियो फ्रीक्वेंसी का उपयोग होता है, जो की नॉन आयोंनाईज़ रेडिएशन- mobile radiation का एक रूप ही है। मोबाइल फोन बच्चों के लिए शारीरिक और मानसिक समस्याएं पैदा कर सकता है।➣ Mobile Radiation से स्वास्थ्य संबंधित खतरें:पिछले कुछ सालों से यह सिर्फ मात्र एक अनुमान था कि मोबाइल फोन हमारे शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। द जर्नल ऑफ़ द अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के अध्ययन में पाया गया था कि मोबाइल फोन मस्तिष्क प्रणाली पर प्रतिक्रिया
चीन ने प्रयोगशाला में बंदर का क्लोन तैयार किया ! तो क्या इंसानों को भी लेब में बनाया जा सकेगा ?

चीन ने प्रयोगशाला में बंदर का क्लोन तैयार किया ! तो क्या इंसानों को भी लेब में बनाया जा सकेगा ?

 कुछ सप्ताह पहले चीन के शांघाई में स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ़ न्यूरोसाइंस ऑफ़ चाइनीज़ एकेडेमी ऑफ़ साइन्स में हाल ही में दो आनुवंशिक रूप से समान लंबी-पूंछ वाले मकाक बंदरो ने जन्म लिया। शोधकर्ताओं ने नवजात बन्दर के नाम झोंग झोंग और हुआ हुआ रखे है जों कि क्रमशः छह और आठ सप्ताह पहले प्रयोगशाला में पैदा हुए। इस शोध के बारेमे दुनियाभर के वैज्ञानिकों की अलग-अलग राये है, कुछ् वैज्ञानिकों का केहना है की इस शोध से भविष्य में इंसानों की क्लोनिंग का खतरा है और कुछ् वैज्ञानिकों का केहना है की इस शोध से दवाईया के जांच के लीये आनुवंशिक रूप से समान जानवर मिल पाएंगे और जंगलो से जानवरों को नही लाना पड़ेगा । ➽ किस तकनीक से और कैसे बनाएं गये बंदर के क्लोन ?इस शोध की अगवाई ४५ सालके सन क्वांग कर रहे है, जोकि उस संस्था के डिरेक्टर है। इस बंदरो की क्लोनिंग में उसी तकनीक का उपयोग हुआ है जिससे 20 साल पहले सन
जानिए हार्ट अटैक से बचने के उपाय Heart Attack ka Desi Ilaj

जानिए हार्ट अटैक से बचने के उपाय Heart Attack ka Desi Ilaj

हार्ट अटैक (Heart Attack in Hindi) : दोस्तों हमें पता है कि 21 वीं शताब्दी में हार्ट अटैक के मामले में वृद्धि हुई है, और जब कोई व्यक्ति हॉस्पिटले में जाता है तो डॉक्टर कहते है कि स्प्रिंग बिठानी पड़ेगी या बाईपास सर्जरी करनी होगी इसकी कीमत 1-2 लाख तक हो जाएगी, लेकिन हम इस बीमारी पर कम ध्यान देते हैं। सभी लोगों को जागृत होने की जरुरत है, क्योकि आप को भी हार्ट की खतरा हो सकता है, कई लोग इस बीमारी के ऊपर कम ध्यान दे पाते हे , उसका कारण है उसकी आर्थिक स्थिति, आर्थिक स्थिति खराब होने की वजह से ज्यादा चिंता करने के कारण हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती हे , दोस्तों नीचे दिए गए विवरणों पर थोड़ा ध्यान की जरुरत है, तो ऐसा करने से हृदय की समस्या से बचा जा सकता है,हार्ट अटैक से बचने के उपाय(1) कसरत करनाहर रोज़ कसरत करना और फीट रहना दिल के लिए सबसे बेहतर उपाय है| 10 से 20 मिनट सभी लोगों को कसरत कर