स्वास्थ्य

कोरोना वायरस (CORONA Virus) क्या है? लक्षण और बचाव

नमस्कार आज हम कोरोना वायरस (coronavirus) के संबंधित बात करने वाले है कोरोना एक गंभीर बीमारी है जिसकी शुरुआत चाइना के वुहान शहर में हुई है. आंकड़ों के अनुसार डब्ल्यूएचओ ने 24,579 केस बताएं जिनमें से 494 लोगों की कोरोनावायरस की वजह से मौत हो गई है. यदि वायरस के लक्षण है खाशी, जुखाम, बुखार, सांस लेने में तकलीफ होना, शरीर का टूटना और सिर में दर्द होना परंतु ऐसा नहीं है कि जिसको ऐसे कोई भी लक्षण हो उनको कोरोनावायरस का इन्फेक्शन हो, यह सब लक्षण दूसरे अन्य वायरल इनफेक्शंस में भी हो सकते हैं. कोरोनावायरस इंफेक्शन उसको है जिसको यह सब लक्षण है और वह पिछले 14 दिन में वुहान शहर जाकर आए हैं या फिर वह किसी के ऐसे मरीज के संपर्क में आए हैं जिसको कोरोनावायरस कन्फर्म इन्फेक्शन हो. कोरोनावायरस से बचने के लिए कोई दवाई नहीं है, उस पर रिसर्च चल रहा है. कोरोनावायरस का बचाव ही सबसे अच्छा रास्ता है, क्योंकि उसका इलाज आज के दिन मेडिकल में अवेलेबल नहीं है. इस लिए आप बचाव के लिए क्या करे? जैसे कि अपने एक अच्छी पर्सनल हाइजीन मेंटेन करें, हाथों को बार-बार साबुन से धोये, खांसी जुखाम करते समय मुंह और नाक पर कपड़ा रखें, यह सब स्टेप्स जो सिंपल सिंपल स्टेप्स जो मैंने अभी ऊपर बताए हैं उन सब पालन करेंगे तो हम कोरोनावायरस से बच सकते हैं और इस बीमारी से घबराने की जरूरत नहीं है.

कोरोनावायरस के बारे में पूरी जानकारी जानना बहुत ही ज्यादा इंपॉर्टेंट है ऐसे 50 लोग मनुष्य के होते हैं जिनका कारण वायरस माना जाता है कोरोना की शुरुआत चीन से हुई है और यह दूसरे देशों को भी अपने संक्रमण से प्रभावित कर रहा है, खबर यह भी आ रही है किस वायरस का भारत के ऊपर भी खतरा मंडरा रहा है, इस लिए आज के इस आर्टिकल में आपके लिए कोरोनावायरस क्या है? इसके क्या कोरोनावायरस लक्षण होते हैं? इससेकोरोनावायरस से कैसे बचा जा सकता है? इन सभी के बारे में आपको बताएंगे. तो यह सबसे पहले जान लेते हैं कि कोरोनावायरस क्या है.

Coronavirus image

कोरोनावायरस क्या है?

कोरोना वायरस, वायरस का एक बहुत बड़ा ग्रुप होता है ये वायरस कुछ जानवरों में पाए जाते हैं, वैज्ञानिकों को का कहना है की यह वायरस जानवरों से इंसानों में संचारित होता है, जो इंसानों में सामान्य जुकाम से लेकर स्वसन तंत्र की गंभीर समस्या तब पैदा कर सकता है. कोरोनावायरस का नाम लैटिन शब्द कोरोना से लिया गया है इसका मतलब होता है यानी कि सर का ताज. इस वायरस का नाम दीखने वाले रूप के ऊपर रखा गया है. यह दिखने में ताज की तरह दिखता है जैसे किसी राजा का ताज होता है. कोरोनावायरस का लक्षण निमोनिया की तरह ही है, इसमें सर्दी जुकाम और बुखार होता है. वैज्ञानिकों के मुताबिक कोरोनावायरस कोई वायरस नहीं है बल्कि यह एक वायरसीस का बहुत बड़ा ग्रुप है, इसमें ज्यादातर वायरस इतने खतरनाक नहीं होते हैं, लेकिन कोरोना के कुछ वायरस ऐसी है, जो कि गंभीर बीमारी पैदा कर सकते हैं. 2019 में डब्ल्यूएचओ ने एक नए तरह का वायरस की पहचान की जिसका नाम है नोवल कोरोनावायरस वायरस, यह वायरस अन्य खतरनाक वायरस की तरह ही होते हैं, यह वायरस बीमारी उत्पन्न करने के साथ साथ प्राणी की जान भी ले लेते है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक यह वायरस सीफूड से जुड़ा हुआ है और इस वायरस की शुरुआत चाइना के वुहान शहर की एक सीफूड बाजार से ही मानी जा रही है. हैरान करने वाली बात ये है इस वायरस की चपेट सिर्फ इंसान ही नहीं बल्कि इसका शिकार प्राणी भी हो रहे है. यह वायरस एक व्यक्ति या पशुओं से दूसरे व्यक्ति में संक्रमण के जरिए फेलता है समुद्री जीव जंतुओं के जरिए यह वायरस चीन के लोगों में फैला, हालांकि कुछ स्टडी में इस वायरस का स्रोत चमगादड़ और सांपों को भी बताया गया है. चमगादड़ ऐसा जीव है जिसमें Sars Virus और Mers Virus दोनों तरह का कोरोनावायरस होता है. तो इससे आप अंदाजा लगा ही सकते हैं कि वायरस जानवरों से इंसानों के अंदर प्रवेश करा रहे है.

कोरोना वायरस की वजह से दुनियाभर के लोगों के मन में डर बैठ गया है, दुनिया के तमाम देशों में यह वायरस चीन से आने वाले यात्रियों के जरिए पहोच रहा है इसी वजह से चीन पहले से ही अपने 12 शेरों के लगभग 3.50 करोड़ से ज्यादा निवासियों की यात्रा पर प्रतिबंध लगा चुका है. शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट भी बंद कर दिया गया है और करोड़ों लोगों के आने-जाने पर रोक लगा दी गई है. ऐसा कहा जा रहा है कि भारत के जयपुर बिहार और केरल इस वायरस के संदिग्ध मामले सामने आए है, हलाकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है, दुनिया भर में कोरोनावायरस की खोफ के बाद भारत भी सतर्क हो गया है, 21 हवाई अड्डों में थर्मल स्क्रीनिंग की सुविधा शुरू हुई है, अलग-अलग देशों से आने वाले विमान यात्रियों की जाँच की सके.

कोरोना वायरस के लक्षण

कोरोना वायरस के लक्षण की बता करे तो श्वसन तंत्र में इंफेक्शन हो जाता है जैसा कि आमतौर पर सामान्य सर्दी जुकाम में देखने मिलता है वायरस की मरीजों में खांसी, गले में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, नाक का लगातार बहना, और बुखार जैसी शुरुआती लक्षण देखे जाते है. इसके बाद यह लक्षण में निमोनिया में बदल जाती है और किडनी को नुकसान पहुंचाते हैं. इसमें फेफड़े में गंभीर का संक्रमण हो जाता है, वैसे जिन व्यक्तियों का इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर रहता है जैसे कि बड़े बुजुर्ग और छोटे बच्चे में तो वायरस के संक्रमण की संभावना ज्यादा होती हैं, और वायरस के संक्रमण होने के बाद उनके शरीर को गंभीर बिमारिया अपनी चपेट में ले लेती है.

कोरोनावायरस से कैसे बचे?

कोरोनावायरस में किसी भी तरह की कोई एंटीबायोटिक काम नहीं करती है फ्लू में दी जाने वाली एंटीबायोटिक भी काम नहीं करती, अभी तक इस वायरस से निजात पाने के लिए कोई भी वैक्सीन नहीं बनाई गई. इस वायरस के इलाज के लिए वैक्सीन बनाने का काम वैज्ञानिक कर रहे हैं, और डब्ल्यूएचओ के मुताबिक इस वायरस से बचने का कोई भी विशेष तरीका विकसित नहीं हो पाया है. लेकिन कुछ सावधानी बरतकर आप इस वायरस की चपेट में आने से बच सकते हैं, और अभी के लिए यही सबसे बेहतर उपाय है.

सबसे पहली बात यह है की सी फ़ूड खाने से दूर रहे, क्योंकि यह वायरस सी फ़ूड के जरिए ही इंसान तक पहुंचा है, तो हो सकता है कि वायरस से संक्रमित समुद्री जिव चीन से दूसरे देशों में भी प्रवेश कर होते है,

कुछ दिनों तक मछली और दूसरे समुद्री चीजों को खाने से बचें.

avoid sea food

साफ-सफाई.

clening

खाने से पहले अपने हाथ अच्छी तरह से धोये, खाची खाने के दौरान अपने मुंह और नाक अच्छी तरह कपडे से ढक ले.

hand washing

सर्दि और फ्लू के लक्षणों होने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करे.

docter

अंडे और मांस को अच्छी तरह पकाकर ही आप उसका सेवन करें.

cooked

कोशिश कीजिए कि जानवरों के सीधे संपर्क में ना आए.

avoid contect to animals

आप कहीं बाहर से आए तो अपने हाथ साबुन और पानी या हेंडवोच से धोये और अपने हाथ और उंगलियों से आंख नाक और मुह को बार-बार ना छुए.

avoid touching eyes

सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण हो उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचें बीमार लोगों से थोड़ी दूरी बनाएं, इससे मरीज और आप दोनों ही सुरक्षित रहेंगे.

avoid close contect

जिन देशों यह वायरस फैला है आप वहां पर यात्रा करने से बचे चाहे कितना ही जरूरी काम क्यों ना हो.

avoid travel

घर के आसपास यात्रा करते समय मास्क उपयोग जरूर करे.

mask

अगर किसी व्यक्ति पर इस वायरस का प्रभाव है तो बीमार मरीज को सही चिकित्सा देने की जरूरत है.

दोस्तों हमें उम्मीद है की आपको इस आर्टिकल से कोरोनावायरस क्या है?, इसके लक्षण कैसे बचा जा सकता है?, कोरोनावायरस से कैसे बचा जाए? इन सब के बारे में आपको अच्छे से जानकारी मिल गई होगी. तो दोस्तों आप भी अपना ख्याल रखें और इस वीडियो को ज्यादा से ज्यादा लोगों के साथ शेयर करें.

ये भी पढ़े: 👇

Leave a Comment

8 − one =