धर्म

Hanuman Chalisa Lyrics in Gujarati PDF and Image Download 2019

Hanuman Chalisa Lyrics Gujarati: कहा जाता है कि 16 वीं शताब्दी के शुरूआती दोर मे महा कवि तुलसीदास ने हनुमान चालिसा देवनागरी (अवधि) भाषा मे लिखी थी – देवनागरी भाषा ज्यादातर उत्तर प्रदेश अवंध क्षेत्र और नेपाल के तेराई क्षेत्र में बोली जाती है)। हनुमान चालीसा मे ४० छंदों का उपयोग हुआ है, जिसकी वजह से “चालीस” शब्द के कारण “हनुमान चालीसा” कहा जाता है। यदि आप Hanuman Chalisa Lyrics in Gujarati pdf and image डाउनलोड करना चाहते हो तो निचे दी गई लिंक से free मे download कर सकते है।

Hanuman Chalisa Lyrics Gujarati

Hanuman chalisa lyrics in gujarati Image: Download

Hanuman chalisa lyrics in gujarati PDF: Download

हनुमान को अमर होने का वरदान मिला हुआ है, जिसकी वजह से वे सदेव अमर रहेंगे। “रघुपति कीह्नी बहुत बड़ाई । तुम मम प्रिय भरतहि सम भाई ॥”: भगवान श्री राम को हनुमान अपने भाई भरत समान प्रिय थे। “भूत पिसाच निकट नहिं आवै । महाबीर जब नाम सुनावै ॥”: महाबीर हनुमान का सिर्फ नाम सुनते ही भुत प्रेत भाग जाते है।

भगवान श्री राम के प्रिय भक्त हनुमान का हिन्दू धर्म मे महत्वपूर्ण स्थान है, हनुमान की भक्ति करना भगवान श्री राम की भक्ति करने सामान माना है। पवनदेव और माता अंजनी के पुत्र श्री हनुमान की पूजा अर्चना एवं भक्ति करने से भक्त के सारे संकट दूर होते है। चोपाई व् चालीसा का नियमित रूप से जाप करने वाले व्यक्ति पर भगवान श्री हनुमान की कृपा हमेशा बनी रहती है, और जीवन मे सदेव सुख शांति बनी रहती है।

जिन लोगों पर शनि महादशा और साढेसाती चल रही होती है उसे रोजाना हनुमान चालीसा का जाप करना लाभदायक होता है। हनुमान चालीसा का जाप करने से भुत प्रेत का भय, कुंडली मे किसी प्रकार के दोष, घर कंकास, सुख शांति न होना जेसी बहोत सी परेशानियां आप से दूर रहती है।

Leave a Comment

17 − eleven =