सोमवार, नवम्बर 19Important Information

Statue of Unity in Hindi | स्टैच्यू ऑफ यूनिटी – संपूर्ण जानकारी

Statue of Unity

Statue of Unity स्टैच्यू ऑफ यूनिटी भारत के प्रथम उपप्रधानमंत्री, प्रथम गृहमंत्री एवं आज़ादी लड़त और आज़ादी के बाद महत्वपूर्ण योगदान देनेवाले सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा है। सरदार वल्लभभाई पटेल “लोह पुरुष” और “अखंड भारत के शिल्पी” से भी जाने जाते है। उसने 562 राज्यों को एक करके यूनाइटेड भारत बनाया था। स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी अबतक की दुनिया की सबसे ऊँची प्रतिमा है।

स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी का लोकेशन और शिलान्यास:

31 अक्टूबर 2013 को सरदार पटेल के जन्मदिवस के मौके पर गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी (Statue of Unity) का शिलान्यास किया था। स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी गुजरात के भरूच के पास स्थित सरदार सरोवर बांध (नर्मदा जिल्ला) से 3 किमी दुरी पर नर्मदा नदी पर साधू बेट नामक टापू पर स्थित है। इस प्रतिमा को बनाने के लिए पुरे भारत के किसानो से लोहा एकत्रित किया गया था। लोहा एकत्रित करने के लिए पुरे भारत में करीब 36 कार्यालय भी खोले गए थे। इस तरह पुरे देश से क़रीब 5000 मेट्रिक टन लोहा एकत्रित किया गया। बाद में उस लोहे की गुणवत्ता को ध्यान में रखते हुए उसे मुख्य प्रतिमा की जगह आसपास के परिसर में उपयोग किया गया।

स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी की विशेषताएँ:

Statue of Unity

 

  • विश्व की सबसे ऊँची प्रतिमा: आधार समेत इस मूर्ति की ऊँचाई 240 मीटर यानी कि 597 फुट की है, जिसमे 58 मीटर ऊंचाई का आधार और 182 मीटर ऊँची प्रतिमा शामिल है।
  • स्टैच्यू ऑफ यूनिटी की ऊंचाई अमेरिका स्थित स्टैच्यू ऑफ़ लिबर्टी की ऊंचाई से लगभग दुगनी है।
  • इस प्रतिमा में भूकंप उपरांत तेज हवाओं को भी जेलने वाली प्रणाली का उपयोग किया गया है।
  • प्रतिमा को 1700 मेट्रिक टन कास्य लेपन किया गया है। तदुपरांत 18500 टन रेंफोर्समेंट स्टील, 6000 टन स्ट्रक्चर स्टील का उपयोग किया गया है।
  • नदी से 500 फिट की ऊंचाई पर स्थित ऑब्जरवेशन डेस्क तक पहिचने के लिए हाई स्पीड लिफ्ट भी है। एकसाथ 200 लोग ऑब्जरवेशन डेस्क का लाभ ले सकते है। ऑब्जरवेशन डेस्क से सतपुड़ा एवं विंधाचल की पर्वतमाला का अद्भुत् नजारा देखने को मिलेगा।
  • स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी (Statue of Unity) के अलावा उस जगह म्यूजियम, नौका विहार, वेली ऑफ़ फ्लावर्स (फूलो का वन) जेसी अन्य मनमोहक चीजें भी है।
  • प्रवासियो की सुविधा के लिए पब्लिक प्लाजा, फ़ूड स्टोल, गिफ्ट शॉप, रिटेल शॉप, होटलों एवं अन्य मनोरंजन की सुविधाए भी है।
  • बुर्ज खलीफा की प्रोजेक्ट मेनेजर कंपनी “टर्नर कंस्ट्रक्शन” ने इस प्रोजेक्ट का सुपरविजन किया है।
Also Read:  MS Office Excel Shortcut Keys In Hindi एक्सेल शॉर्टकट कीस इन हिंदी PDF Download

निर्माण:

स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी (Statue of Unity) के निर्माण की लागत 3000 करोड़ तय की गई थी। भारतीय विनिर्माण कंपनी लारसन एंड टर्बो ने 27 अक्टूबर 2014 को सबसे कम 2,989 करोड़ रुपये की बोली लगाकर आकृति, निर्माण तथा रखरखाव की जिम्मेदारी ली थी। स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी (Statue of Unity) का निर्माण काम 4 साल तक चला और अक्टूबर 2018 के मध्य में निर्माण काम पूर्ण हुआ।

31 अक्टूबर 2018 को सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्मदिवस के मौके पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी का उद्घाटन करेंगे।

 

Find this Article helpful then Share With Your Friends

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

fifteen + thirteen =