व्यापार

उद्योग आधार क्या है? और लाभ व रजिस्ट्रेशन की पूर्ण जानकारी! 2019

Udyog Aadhar: भारत सरकार ने 2015 में उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन को MSME रजिस्ट्रेशन की जगह शुरू किया था, जिससे की लघु व् मध्यम व्यवसाय को मदद मिल सके। Udyog Aadhar का रजिस्ट्रेशनऑनलाइन भी किया जा सकता है और इसे प्राप्त करना बहुत जरुरी है, क्योंकि इसे प्राप्त करने के बाद आपके व्यवसाय को बहुत फायदा मिलेगा। अगर आप एक नया बिज़नेस शुरू करने जा रहे है, तो अपने व्यवसाय का उद्योग आधार  प्राप्त करे। ये आर्टिकल Udyog Aadhaar के बारे में बात करता है और इसके फायदे आपको बताता है, जिससे आप इसके फायदे जान सकेंगे।

उद्योग आधार क्या है? (What is Udyog Aadhaar?)

उद्योग आधार एक प्रमाणित पत्र है जिसे Ministry of Micro, Small and Medium Enterprises द्वारा जारी क्या जाता है, इसमें 12 अंको की एक यूनिक संख्या होती है जो ये प्रमाणित करती है की आपने अपने व्यवसाय का रजिस्ट्रेशन Ministry of MSME से करवाया है। सरकार ने उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन 2015 में शुरू किया था और अब आपको  अपने व्यवसाय का रजिस्ट्रेशन करवाना है Ministry of MSME से  तो आपको Udyog Aadhar Registration करवाना होगा। उद्योग आधार आने से पहले सभी लघु और माध्यम उद्योगों का MSME Registration करवाना अनिवार्य था पर अब MSME Registration की जगह आपको Udyog Aadhar रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। Udyog Aadhar की वजह से सरकार को पता चल जायेगा की हमारे देश में कितने प्रकार के व्यवसाय चलाये जा रहे है और उन्हें बढ़ावा देने के लिए अब उन्हें क्या करना चाहिए।

Udyog Aadhaar Registration

उद्योग आधार सर्टिफिकेट मिलने के बाद आपको कई तरह के प्रॉफिट मिलेंगे जैसे की उद्योग आधार आने से पहले सभी लघु और माध्यम उद्योगों का MSME Registration करवाना अनिवार्य था पर अब MSME Registration की जगह आपको Udyog Aadhar रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। उद्योग आधार की वजह से सरकार को पता चल जायेगा की हमारे देश में कितने प्रकार के व्यवसाय चलाये जा रहे है और उन्हें बढ़ावा देने के लिए अब उन्हें क्या करना चाहिए। उद्योग आधार सर्टिफिकेट मिलने के बाद आपको कई तरह के प्रॉफिट मिलेंगे जैसे की आप अपने लघु उद्योग के लिए सरकारी सब्सिडी का फायदा  है और बैंक से आसानी से लोन ले सकते है। Udyog Aadhar प्राप्त करने की प्रक्रिया बहुत सरल और आसान है। इसकी प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन है।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन प्रोसेस (Udyog Aadhar Registration process)

अगर आप अपने व्यवसाय का Udyog Aadhar Registration करवाना चाहते है तो आपको सबसे पहले उद्योग आधार की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा और वह जाकर आपको व्यक्तिगत आधार नंबर दर्ज करने होंगे और नाम  लिखना होगा, उसके बाद आपको OTP generate करना होगा। फिर आपको आपके आधार लिंक्ड फोन नंबर पर ओटीपी मिलेगा, आपको वो OTP वहा लिखना होगा।

उसके बाद आपको Udyog Aadhar मेमोरेण्डम को भरना होगा जिसके लिए आपको सारी जरुरी जानकारी उसमे लिखनी होगी जैसे की आपका नाम, व्यवसाय का नाम व् पता, अन्य जानकारी। सारी जानकारी भरने के बाद आप उस फॉर्म को सबमिट कर सकते है।  फिर आपको एक ओटीपी प्राप्त होगा, आपको वो OTP उसमे लिखना होगा। उसके बाद आपका फॉर्म जमा हो जायेगा और कुछ समय में आपको उद्योग नंबर नंबर मिल जायेंगे।

उद्योग आधार के फायदे (Benefits of Udyog Aadhar in Hindi)

उद्योग आधार प्राप्त करने के बाद आपको कई लाभ मिलेंगे, जैसे की यहाँ कुछ फायदे नीचे लिखे गए हैं।

  • आपको बैंक से कम ब्याज दर पर ऋण मिलेगा जिससे की आपको कम ब्याज चुकाना पड़ेगा।
  • आपको अपने बिजली के बिल में सब्सिडी मिल सकती है जो की एक बहुत बड़ा फायदा है।
  • जब आप कोई पेटेंट करवाएंगे तो आपको सब्सिडी मिलेगी।
  • आपको बहुत सारी सरकारी स्कीम्स से फायदा मिलेगा।
  • OD पर ब्याज में 1% की छूट होगी।
  • आपको बैंक से लोन आसानी से मिल सकता है।
  • आपकी ऋण सीमा बढ़ जाएगी।
  • आप अपने उत्पाद को विदेशी एक्सपो में प्रस्तुत कर पायंगे।
  • आपको व्यापार मेलों के लिए प्रतिपूर्ति मिल सकती है।
  • सरकार आपको वित्तीय सहायता भी प्रदान कर सकती है अगर आप मार्किट में कुछ अच्छा प्रोडक्ट लाते है तो।
  • बैंक में चालू खाता खोलना आसान होगा।
  • आपकी ऋण सीमा बढ़ जाएगी
  • उद्योग आधार एक कानूनी प्रमाण पत्र के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • आपको अपने ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन के लिए कम शुल्क देना होगा।
  • आपको टैक्स में छूट मिलेगी।
  • आपको प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से भी फायदा मिलेगा।

निष्कर्ष

जैसा की आप देख सकते हैं कि Udyog Aadhar Registration हो जाने के बाद आप कई सारे फायदे उठा पाएंगे, उद्योग आधार इसलिए भी जरुरी है ताकि सरकार को पता चल सके की हमारे देश में कितने लघु व् सूक्ष्म व्यवसाय चलाये जा रहे है ताकि उनको बेहतर बनाने के लिए वो कोई ठोस कदम उठा सके। अगर आप अपने बिज़नेस का उद्योग आधार  चाहते है तो इसे आप आसानी से करवा सकते है, जैसा की आप देख सकते है की इसे रजिस्टर करवाने की प्रक्रिया ऑनलाइन है और बड़ी आसान है। और इसका रजिस्ट्रेशन अवश्य करवाए, ये आपके बिज़नेस को क़ानूनी तरीके से प्रमाणित भी करता है।

ये भी पढ़े: 👇👇👇

भारत में पार्टनरशिप फर्म कैसे शुरू करें 

Leave a Comment

20 − 8 =